भजनलाल शर्मा की जीवनी/bhajan Lal Sharma biography in Hindi.

भजनलाल शर्मा एक ऐसा नेता है जो पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ा और मुख्यमंत्री के पद तक पहुंचा। भजनलाल शर्मा एक सामान्य किसान परिवार से आते हैं। कहां जाता है कि भजन लाल शर्मा अपनी शुरुआती जीवन में दूध बेचा करते थे। दूध बेचने से लेकर मुख्यमंत्री के सफर काफी मुश्किल भरा रहा है। आज हम राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के जीवन के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें जानेंगे।7
    7

    राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा की जीवन परिचय।
    भजनलाल शर्मा का जन्म 15 दिसंबर 1967 में भरतपुर जिले के नदबई के अटारी गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम किशन स्वरूप तथा माता का नाम गोमती देवी है। भजनलाल शर्मा के दो पुत्र हैं बड़े बेटे का नाम अभिषेक है जो प्राइवेट नौकरी करता है। छोटा बेटा कुणाल जो एमबीबीएस की पढ़ाई कर डॉक्टर है। भजनलाल शर्मा एक सामान्य किसान परिवार से आते हैं। कहां जाता है कि वह अपने शुरुआती जीवन में दूध बेचा करते थे। उन्होंने पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ा और उनका नाम मुख्यमंत्री के पद के लिए घोषित किया गया।
    भजनलाल शर्मा का राजनीतिक सफर।
    1987 में नदवाई विद्यार्थी परिषद से जुड़े
    1990 में कश्मीर मार्च निकाला जिसमें बढ़-कर कर भाग लिया। 2000 में सरपंच बने और अयोध्या राम भूमि में जेल भी गए। कहां जाता है कि वर्ष 2000 में सरपंच बनने के बाद मोटरसाइकिल से प्रचार किया करते थे। वर्ष 2014 में भरतपुर के महामंत्री बने। भजनलाल शर्मा का संबंध सेवक संघ से काफी पुराना रहा है। 2023 में पहली बार जयपुर के सांगानेर सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट से विधानसभा का चुनाव लड़ा और अपने प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के उम्मीदवार को 48000 ऑटो से पराजित किया।
    भजनलाल शर्मा की शिक्षा।
    भजनलाल शर्मा राजस्थान विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में एमए की उपाधि प्राप्त की है।
    भजन लाल शर्मा का चुनाव क्षेत्र।
    भजनलाल शर्मा का निवास स्थान भरतपुर है जबकि उन्हें जयपुर के सांगानेर सीट से टिकट दिया गया था। आज वह सर्वसम्मति से वसुंधरा राज ने मुख्यमंत्री पद के लिए उनके नाम का प्रस्ताव किया था। सर्वसम्मति से सभी विधायक के ने इसकी समर्थन किया। भजनलाल शर्मा अपने जन्मदिन दिवस के अवसर पर 15 दिसंबर 2023 को राजस्थान के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण किया।
    भजनलाल शर्मा का प्रारंभिक जीवन।
    भजनलाल शर्मा अपने पिता किशन स्वरूप के तीन पुत्रों में से सबसे छोटे हैं। कहां जाता है कि खेती में अपने पिता का साथ दिया करते थे। यह भी कहा जाता है कि भजनलाल शर्मा पहले दूध बेचते थे।
    आपको यह भी पसंद आ सकता है,डॉ हरगोविंद खुराना की जीवन परिचय
    Tags

    एक टिप्पणी भेजें

    0 टिप्पणियाँ
    * Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.